Fri. Feb 26th, 2021

Express News Live

ज़िद !! सच दिखने की

पीएम मोदी के साथ मंच पर नाराज हुई ममता- नारेबाजी पर बोली…

नेशनल डेस्कः नेताजी सुभाष चंद्र बोस की 125वीं जयंती के मौके पर केंद्र सरकार पराक्रम दिवस मना रही है। इस दौरान पश्चिम बंगाल के विक्टोरिया पैलेस में सांस्कृतिक कार्यक्रम का आयोजन किया गया। कार्यक्रम में ममता बनर्जी भड़क गईं और बोलने से इनकार कर दिया। ममता ने कहा कि यह भारत सरकार का कार्यक्रम है न कि कोई राजनीतिक कार्यक्रम।

उन्होंने ‘जय हिंद, जय बांग्ला’ बोलकर संबोधन से इनकार कर दिया। इस दौरान पीएम मोदी भी मंच पर मौजूद थे। सुभाषचंद्र बोस की जयंती पर एक डाक टिकट और एक सिक्का जारी किया।

दरअसल, ममता बनर्जी को कार्यक्रम में बोलने के लिए आमंत्रित किया गया लेकिन उनके मंच पर पहुंचते ही जयश्री राम के नारे लगने लगे। इससे नाराज ममता बनर्जी ने मंच पर बोलने से इनकार कर दिया। एक तरफ जयश्री राम तो दूसरी तरफ भारत माता की जय के नारे लग रहे थे। इसे देखकर ममता बनर्जी भड़क गईं और बोलने से इनकार कर दिया। ममता ने कहा कि यह भारत सरकार का कार्यक्रम है। मैं प्रधानमंत्री को धन्यवाद देती हूं कि उन्होंने मुझे आमंत्रित किया।


ममता ने कहा कि सरकार के प्रोग्राम का कोई डिग्निटी होना चाहिए। यह सभी पार्टियों, सभी सरकार और जनता का कार्यक्रम है। उन्होंने कहा कि मैं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और सांस्कृतिक मंत्रालय का धन्यवाद करती हूं कि उन्होंने कलकत्ता में कार्यक्रम बनाया। उन्होंने कहा कि किसी को आमंत्रित करके उसको बेज्जत करना शोभा नहीं देता है।

बता दें कि पश्चिम बंगाल में अगले कुछ महीनों में विधानसभा चुनाव होने हैं। भाजपा और टीएमसी के बीच सियासी बयानवाजी चरम पर है। एक ओर ममता तीसरी बार बंगाल में सरकार बनाने के लिए जद्दोजहद कर रही हैं। वहीं, भाजपा बंगाल में सरकार बनाने की लड़ाई लड़ रही है।

Share
Now