Tue. May 11th, 2021

Express News Live

ज़िद !! सच दिखने की

भारत मैं कोरोना का खौफनाक अटैक- लगातार तीसरे दिन दो लाख से ज्यादा केस- मौत के आंकड़े में आई तेजी के साथ बढ़ोतरी…

नई दिल्ली

देश में शनिवार देर रात तक भारत में कोरोना वायरस के नए मामले 2.5 लाख को पार गया है। यह लगातार तीसरा दिन है जब देश में एक दिन में महामारी के दो लाख से अधिक मामले सामने आए हैं। इसके साथ ही दिल्ली सहित 11 राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों में ऑक्सीजन सिलेंडर, टीके की खुराक और रेमडेसिविर की मांग भी बढ़ गई है। दिल्ली के मुख्यमंत्री ने कोविड-19 महामारी की स्थिति को ‘चिंतित करने वाला करार दिया।

भारत में कोविड-19 रोगियों की संख्या 1.50 करोड़ और मृतकों की संख्या 1.75 लाख के करीब पहुंचने के नजदीक है। वहीं, राज्यों द्वारा हाल में बढ़े मामलों के रोकथाम और प्रबंधन के लिए उठाए गए कदमों की समीक्षा करने के लिए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन ने बैठक की। कोविड-19 की स्थिति से निपटने के लिए जन स्वास्थ्य तैयारियों की समीक्षा करने के लिए बुलाई गई बैठक में मोदी ने महामारी को हराने के लिए राज्यों में सहयोग का आह्वान किया और साथ ही कहा कि दवा निर्माण की पूर्ण राष्ट्रीय क्षमता का इस्तेमाल किया जाए। 

कोरोना की दूसरी लहर ने एक दिन में सर्वाधिक मौत के आंकड़े को ध्वस्त कर दिया है। प्रतिदिन मिलने वाले नए कोरोना मामलों का हर दिन नया रिकॉर्ड स्थापित कर रही दूसरी लहर के कारण शनिवार सुबह तक 24 घंटों में 1341 संक्रमितों की मौत हो गई। यह महामारी की शुरुआत के बाद से अब तक देश में एक दिन में जान गंवाने वाले कोरोना मरीजों की सर्वाधिक संख्या है।

इसी के साथ कुल मृतक संख्या बढ़कर 1,75,649 हो गई है। इसके पहले एक दिन में कोरोना से सर्वाधिक मौत का आंकड़ा 1290 था, जिसे 16 सितंबर को दर्ज किया गया था।

कोरोना से ठीक होने की दर घटी: संक्रमित लोगों के स्वस्थ होने की दर गिरकर 87.23 प्रतिशत रह गई है। कोरोना से स्वस्थ होने वाले लोगों की संख्या बढ़कर 1,26,71,220 हो गई है और मृत्यु दर गिरकर 1.21 प्रतिशत हो गई है। 

हफ्तेभर में प्रतिदिन मौत के औसत मामले 66 फीसदी बढ़े: देश में 10 अप्रैल से 16 अप्रैल के बीच कुल 7206 लोगों की कोरोना से मौत हुई। इस लिहाज से सप्ताह में प्रतिदिन मरने वाले कोरोना मरीजों की औसत संख्या 1029 रही। लेकिन इसके पहले के सप्ताह (3 अप्रैल से 9 अप्रैल तक) कुल 4326 कोरोना मरीजों की मौत हुई। इस लिहाज से बीते इस हफ्ते में रोजाना कोरोना मरीजों के मौत की औसत संख्या 618 रही। दो आंकड़ों से पता चलता है कि पहले के मुकाबले दूसरे हफ्ते में प्रतिदिन कोरोना मरीजों की मौत की औसत संख्या में 66.3 फीसदी का इजाफा हुआ।

अहमदाबाद में कोरोना मृत्युदर सर्वाधिक: देश के प्रमुख 10 शहरों में अहमदाबाद में कोरोना मरीजों की मृत्यु दर (सीएफआर)सर्वाधिक है। कोरोना मृत्यु दर से आशय प्रति 100 कोरोना मरीजों में से जान गंवाने वाले मरीजों की संख्या से है।

Tier-2, Tier-3 शहर सबसे ज्यादा प्रभावित

‘भारत की दूसरी कोरोना लहर के प्रबंधन के लिए जरूरी कदम’ (Managing India’s Second COVID-19 Wave) शीर्षक वाली इस रिपोर्ट में बताया गया है कि जल्द ही देश में हर दिन औसतन 1750 मरीजों की मौत हो सकती है. रोजाना मौतों की यह संख्या बहुत तेजी से बढ़ते हुए जून के पहले सप्ताह में 2320 तक पहुंच सकती है. रिपोर्ट के अनुसार, इस बार कोरोना से देश के टीयर-2 व टीयर-3 श्रेणी वाले शहर सबसे ज्यादा संक्रमित हैं.  

Share
Now