January 31, 2023

Express News Bharat

Express News Bharat 24×7 National Hindi News Channel.

Express News Bharat

दर्दनाक हादसा: कच्चे मकान की दीवार ढही, मां-बाप संग बेटे की मौत,

उत्तर प्रदेश के औरैया जिले में कच्चे घर की दीवार गिरने से तीन लोगों की मौत हो गई. मरने वाले एक ही परिवार के हैं. एक बच्चे सहित मां-बाप की जान गई है. वहीं, तीन और बच्चे जो घटना में घायल हुए हैं उनका अस्पताल में इलाज चल रहा है.

दरअसल, कुदरकोट थाना क्षेत्र के गोपियापुर में 45 वर्षीय इंद्रवीर अपनी पत्नी 40 वर्षीय पत्नी शकुंतला और चार बच्चों 14 वर्षीय आकाश, 13 वर्षीय विकास, 10 वर्षीय अनुराग और 6 साल का अंशु के साथ रहता था. इनका पक्का मकान नहीं थी तो कच्चे घर में सभी रहते थे.

शुक्रवार-शनिवार की रात को इंद्रवीर अपने परिवार के साथ सो रहा था. इसी दौरान घर की कच्ची दीवार भरभरा कर पूरे परिवार पर आ गिरी. इंद्रवीर, पत्नी और सभी चार बच्चे दीवार की चपेट में आ गए और घायल हो गए. घटना के बाद इंद्रवीर के आस-पास रहने वाले लोगों ने तुरंत ही घटना की जानकारी पुलिस को दी और एंबुलेंस बुलाई.

इसके बाद घायलों की तुरंत ही सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र बिधूना लाया गया. यहां पर जांच करने के बार डॉक्टरों ने इंद्रवीर, उसकी पत्नी और 13 साल के बेटे विकास को मरा हुआ घोषित कर दिया. इसके बाद बाकी दो बच्चों को बेहतर इलाज के लिए सैफई रिम्स रेफर कर दिया गया और 6 साल के अंशु का विधुना में ही इलाज किया जा रहा है.

नहीं था पक्का घर, छप्पर डाल कर रहत थे

ग्रामीणों के मुताबिक, इंद्रवीर के पास पक्का मकान नहीं थी. वहीं, कच्चा घर भी जर्जर था. पूरा परिवार दिन पर गांव में बने बारात घर में रहता और रात के समय सोने के लिए कच्चे घर में आ जाता था. उन्होंने कच्चे घर पर छप्पर डाल रखा था.

सरकारी की ओर से बनने वाला था घर

वहीं, ग्रामीणों ने यह भी बताया कि इंद्रवीर का नाम सरकारी की ओर से बनने वाले आवास की लिस्ट में आ गया था. फिलहाल उसे घर बनाने के लिए पैसा नहीं मिला था. उसके पहले ही यह हादसा हो गया और तीन लोगों की मौत हो गई. वहीं, घायलों को सैफई रेफर किया गया.

क्यों नहीं मिला कराएंगे जांच

वहीं, घटना की जानकारी मिलने पर जिला अधिकारी औरैया पीसी श्रीवास्तव और पुलिस अधीक्षक घटना स्थल पर पहुंचे. जिला अधिकारी द्वारा सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र में घायल पीड़ित अंशु उम्र 6 साल के बच्चे से मिले और हालचाल लिया. परिवार को आर्थिक सहायता की भी बात कही. वहीं, डीएम पीसी श्रीवास्तव ने मामले की जांच कराने की बात कही है.

Share
Now