January 17, 2022

Express News Bharat

ज़िद !! सच दिखने की

ENB

UPTET पेपर लीक मामला: लखनऊ से प्रयागराज तक ऐक्शन, जाने कितने हुए अरेस्ट…..

UPTET पेपर लीक मामले में अब तक कुल 23 लोगों को गिरफ्तार किया जा चुका है. इसी मामले में मेरठ एसटीएफ ने तीन लोगों को शामली से पकड़ा है. उनसे पूछताछ की जा रही है. एक माह में पुनः परीक्षा कराई जाएगी. परीक्षार्थियों को फॉर्म नहीं भरना होगा और ना ही कोई फीस देनी होगी.

UPTET पेपर लीक मामले में अब तक कुल 23 लोगों की गिरफ्तारी हुई है. इनमें लखनऊ से 4, शामली से 3, अयोध्या से 2, कौशांबी से 1, प्रयागराज से 13 लोगों को गिरफ्तार किया गया है. गिरफ्तार किए गए आरोपियों से पुलिस कड़ी पूछताछ कर रही है. उम्मीद जताई जा रही है कि पूछताछ में कई सुराग निकलकर सामने आएंगे.

एडीजी लॉ एंड ऑर्डर लखनऊ प्रशांत कुमार ने कहा कि शनिवार देर रात हम लोगों ने 23 लोगों को गिरफ्तार किया, जिसमें से 4 लोग लखनऊ से, 3 मेरठ से, दो लोग गोरखपुर और वाराणसी से, एक कौशांबी से और 13 लोग प्रयागराज से पकड़े गए हैं. इन लोगों को एसटीएफ की टीम ने पकड़ा है.  UPTET परीक्षा दो पालियों में आयोजित होनी थी. 736 परीक्षा केंद्र बनाए गए थे. 

उन्होंने कहा कि जो भी परीक्षार्थी परीक्षा देने आए थे, वह अपने गंतव्य को अपना एडमिट कार्ड यूपीएसआरटीसी परिवहन सेवा को दिखाकर फ्री में जा सकते हैं, उनको टिकट नहीं लेना होगा. हम लोगों ने निश्चित किया है कि एक महीने में फिर परीक्षा कराएंगे. परीक्षार्थियों को न ही फॉर्म भरना होगा और न ही कोई फीस देनी होगी, परीक्षा क सारा व्यय सरकार उठाएगी.

उन्होंने बताया कि गिरफ्तार किए गए अभियुक्तों के पास से फोटोकॉपी मिली. हम लोगों ने फोटोकॉपी शासन से शेयर की तो पता चला यह वही प्रश्न पत्र है, जो परीक्षा में आने वाले हैं. इसके बाद शासन ने निर्णय किया कि परीक्षा को स्थगित किया जाएगा और परीक्षा स्थगित कर दी गई. पूरे प्रकरण की जांच एसटीएफ द्वारा की जाएगी. इसमें जो भी व्यक्ति या संस्था शामिल है, उन्हें बख्शा नहीं जाएगा.

Share
Now