September 26, 2022

Express News Bharat

ज़िद !! सच दिखने की

ENB

DM आवास में मिली तेंदुए की लोकेशन! वन विभाग ने नाइट विजन कैमरे से किया चेक अधिकारियों के हाथ-पांव फूले…

गोंडा में डीएम के घर में तेंदुए की लोकेशन वन विभाग ने ट्रैक कर ली है। वन विभाग के लिए तेंदुए की निगरानी के लिए लगाए गए नाइटविजन कैमरे में उसकी तस्वीर कैद हुई है। इससे पहले भी सीसीटीवी फुटेज में तेंदुआ घूमते नजर आया था। इसके बाद से वन विभाग की टीम डीएम आवास के साथ आसपास के क्षेत्रों में निगरानी कर रही है। तेंदुए को पकड़ने के लिए वन विभाग ने अब चार पिंजरे लगाए हैं।

ढाई महीने से तेंदुआ वन विभाग को थका रहा है। बुधवार रात से वह लगातार सीसीटीवी फुटेज में दिखा है। उसकी लोकेशन को ट्रेस कर लिया गया है। सितंबर के पहले हफ्ते में तेंदुआ डीएम आवास में कूदकर दीवार पर जाते दिखा था। वन विभाग की टीम उसे पकड़ने के लिए दो पिंजरे लगाए थे। कई वनकर्मियों के कर्मियों के साथ हांका लगाने के बाद तीन टीमें नियमित तौर पर गश्त कर रही हैं।

डीएफओ आरके त्रिपाठी का कहना है कि तेंदुए का लोकेशन मिलने के बाद इसे पकड़ने के इंतजाम किए जा रहे हैं। वहीं पिंजरे की संख्या बढ़ाई गई हैं। तेंदुए ने अपना ठिकाना डीएम आवास के बगल कई एकड़ में खाली पड़ी भूमि में फैले झाड़-झंखाड़ और वृक्षों के झुरमुटों में बना रखा है।

बताया जा रहा है कि अपने स्वभाव के मुताबिक लोगों की हलचल अधिक होने पर वह उसी झुरमुटों में छुप जा रहा है। शांत माहौल में वह बाहर निकलता है। इसीलिए देर शाम व रात में ही सीसीटीवी फुटेज में दिखा

सोहेलवा और बलरामपुर से मंगाया पिंजरा, एक्सपर्ट भी मांगे

वन विभाग ने दो पिंजरे को डीएम आवास में लगा रखा था। इसके अलावा एक बड़ा पिंजरा सोहेलवा वन्य जीव प्रभाग बलरामपुर से मांगा है। कुल मिलाकर एक बड़ा पिंजरा, एक मझला और दो छोटे पिंजरे हैं। इनमें एक बड़ा और एक छोटा पिंजरा डीएम आवास में लगा है। बाकी बगल की खाली भूमि में लगा दिया गया है।

डीएफओ आरके त्रिपाठी का कहना है कि तेंदुए को पकड़ने के लिए एक्सपर्ट और जरूरी संसाधन भी मांगे गए है। इसके लिए उन्होंने वन संरक्षक, देवीपाटन को पत्र लिखा है। माना जा रहा है कि वाइल्ड लाइफ संरक्षित क्षेत्र से तेंदुआ पकड़ने के लिए टीम आएगी।

Share
Now