January 20, 2022

Express News Bharat

ज़िद !! सच दिखने की

ENB JOIN US

यूपी में आज दो हाई प्रोफाइल मर्डर: शिकार व्यापारी और सपा नेता, योगी सरकार की कानून व्यवस्था पर सवाल ..

उत्तर प्रदेश में 24 घंटे के भीतर डबल मर्डर से एक बार कानून व्यवस्था पर सवाल उठने लगे हैं। चुनाव से ठीक पहले इन हत्याओं से योगी सरकार की मुश्किलें बढ़ सकती हैं। बलरामपुर में जहां समाजवादी पार्टी के नेता की गल रेतकर हत्या कर दी गई है तो जौनपुर में व्यापारी को अगवा करने के बाद बदमाशों ने जिंदा जलाकर जान ले ली है।

बलरामपुर में फिरोज पप्पू की हत्या
बलरामपुर जिले में समाजवादी पार्टी (सपा) नेता फिरोज पप्पू की मंगलवार देर रात हत्या के बाद से इलाके में आक्रोश और तनाव है। बलरामपुर में तुलसीपुर क्षेत्र पंचायत के पूर्व चेयरमैन फिरोज पप्पू की अज्ञात हमलावरों ने देर रात धारदार हथियार से हत्या कर दी। फिरोज, तुलसीपुर नगर पंचायत की अध्यक्ष कहकशां के पति हैं। पुलिस सूत्रों ने बुधवार को बताया कि फिरोज जरवा चौराहे से अपने घर वापस लौट रहे थे, तभी रास्ते में घात लगाये अज्ञात बदमाशों ने धारदार हथियार से उनके गर्दन व माथे पर प्रहार कर घायल कर दिया।

इलाके में तनाव, बढ़ाई गई सुरक्षा
गंभीर रूप से घायल अवस्था में उन्हें अस्पताल ले जाया गया जहां डॉक्टरों ने फिरोज को मृत घोषित कर दिया। उनकी हत्या की सूचना इलाके में फैलने पर समर्थक विरोध प्रदर्शन करने लगे। हमलावरों की गिरफ्तारी की मांग को लेकर प्रदर्शन कर रहे समर्थकों को पुलिस अधीक्षक हेमंत कुटियाल ने हमलावरों की गिरफ्तारी का आश्वासन देते हुए शव को पोस्टमार्टम के लिये भिजवा दिया है। फिलहाल इलाके में इस घटना को लेकर बढ़ रहे आक्रोश व तनाव को देखते हुए पूरे क्षेत्र में अतिरक्ति पुलिस बल तैनात कर दिया गया है। पुलिस ने बताया कि आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए गठित टीमें छानबीन में जुटी है।

जौनपुर में अगवा व्यापारी की हत्या
जौनपुर में सिकरारा से अगवा व्यापारी अखिलेश जायसवाल की बदमाशों ने बेरहमी से हत्या कर दी है। व्यापारी को पहले बदमाशों ने पीटा फिर जिंदा ही जलाकर मार डाला। 30 दिसम्बर को व्यापारी का अपहरण किया गया था। जांच में जुटी पुलिस को बदमाशों के बारे में पता चला तो उनकी घेरेबंदी की। बुधवार सुबह हुई मुठभेड़ के बाद गोली लगने से एक बदमाश घायल हो गया। स्वाट टीम के एक अधिकारी को भी गोली लगी है। पुलिस ने गोली से घायल बदमाश के अलावा उसके साथी को भी पकड़ा है। घायल बदमाश को वाराणसी ट्रामा सेंटर भेजा गया है।

जला हुआ शव बरामद
जौनपुर के एसपी अजय साहनी ने बताया कि 30 दिसम्बर को सिकरारा निवासी अखिलेश जायसवाल की गुमशुदगी दर्ज हुई थी। जांच में पता चला कि व्यापारी का अपहरण किया गया है। इसके बाद पुलिस ने बृजेश सिंह उर्फ मुन्ना के खिलाफ अपहरण में केस दर्ज कर तलाश शुरू की। सर्विलांस से पता चला कि बृजेश सिंह ने दीपक सिंह के साथ मिलकर अखिलेश जायसवाल को उनके घर से 100 मीटर दूर खपरहा बाजार के पास से अपहरण किया है। कुछ लोगों के साथ मिलकर उनकी जमीन और मकान हड़पने की साजिश के तहत वारदात को अंजाम दिया गया था। बदमाशों ने व्यापारी को अगवा करने के बाद बुरी तरह मारापीटा। गंभीर रूप से घायल और बेहोश हो गए व्यापारी को राजकुमार और अमन सिंह के सहयोग से हरीरामपुर घाट होते हुए खूंशापुर घाट पर नाव से ले गए। वहां रिशु सिंह व एक अज्ञात व्यक्ति के सहयोग से लकड़ी व पेट्रोल डालकर जिंदा ही जला दिया गया। पुलिस की टीम गिरफ्तार अमन सिंह की निशानदेही पर ग्राम खुंशापुर घाट पर पहुंची और जले हुए लकड़ियों एवं व्यापारी के शरीर के अवशेष व हड्डियों एवं जले हुए स्वेटर की बरामदगी की।

Share
Now