October 20, 2021

Express News Bharat

ज़िद !! सच दिखने की

लखीमपुर हिंसाः प्रशासन-किसानों में इन शर्तों पर हुआ समझौता, टिकैत ने दिया अल्टीमेटम….

लखीमपुर खीरी हिंसा के दौरान मारे गए सभी मृतकों को 45-45 लाख रुपये की आर्थिक सहायता दी जाएगी. साथ ही मृतकों के परिवार के एक सदस्य को नौकरी दी जाएगी. इसके अलावा घायलों को 10-10 लाख रुपये की आर्थिक मदद दी जाएगी.

उत्तर प्रदेश के लखीमपुर खीरी में हिंसा के दौरान चार किसानों, तीन बीजेपी कार्यकर्ताओं और एक पत्रकार की मौत हो गई है. इस हिंसा के बाद किसानों का प्रदर्शन जारी है और वह मारे गए किसानों के शव को सड़क पर रखकर प्रदर्शन कर रहे हैं. किसान कई मांगों पर अड़े थे. अब खबर है कि किसानों और लखीमपुर खीरी प्रशासन के बीच समझौता हो गया है.

बताया जा रहा है कि हिंसा के दौरान मारे गए सभी मृतकों को 45-45 लाख रुपये की आर्थिक सहायता दी जाएगी. साथ ही मृतकों के परिवार के एक सदस्य को नौकरी दी जाएगी. इसके अलावा घायलों को 10-10 लाख रुपये की आर्थिक मदद दी जाएगी. मामले की जांच हाई कोर्ट के रिटायर जस्टिस की निगरानी में की जाएगी. 

किसान नेता राकेश टिकैत और एडीजी (लॉ एंड ऑर्डर) प्रशांत कुमार ने साझा प्रेस कॉन्फ्रेंस करके जानकारी दी. सभी चार मृतक किसानों के परिवार वालों को 45-45 लाख रुपए का मुआवजा मिलेगा. परिवार वालों में से एक को नौकरी भी दी जाएगी और पूरे मामले की रिटायर्ड जज के जरिए न्यायिक जांच होगी.

कार्रवाई नहीं हुई तो करेंगे पंचायात

राकेश टिकैत ने कहा, ‘पहली बात हुई है कि केंद्रीय गृह राज्य मंत्री का नाम एफआईआर में दर्ज हुआ है, 10-11 दिन का जो समय प्रशासन ने मांगा है अगर उसके अंदर का कार्रवाई नहीं की गई तो हम पंचायत करेंगे, हम किसानों के दाह संस्कार तक यही रहेंगे और पांच डॉक्टरों की निगरानी में पोस्टमॉर्टम होगा और उसका वीडियो रिकॉर्डिंग ही किया जाएगा’

किसान नेता राकेश टिकैत ने कहा, ‘अभी इंटरनेट नहीं चल रहा है इसलिए हमें बहुत सारी वीडियो सबूत नहीं मिले हो लेकिन जैसे ही इंटरनेट चलेगा, आपके पास कोई वीडियो है तो वह हमें जरूर भेजें.’

Share
Now