January 20, 2022

Express News Bharat

ज़िद !! सच दिखने की

ENB JOIN US

गुरु कार्तिक पूर्णिमा के मौके पर गण्डकी नदी में श्रद्धालुओं के द्वारा स्नान-ध्यान……

पश्चिम चंपारण जिले के बाल्मीकिनगर में कार्तिक पूर्णिमा के अवसर पर बड़ी संख्या में लोगों ने गण्डक नदी के काली मंदिर, लवकुश घाट, कलेश्वर मन्दिर के इर्द गिर्द घाट पर डुबकी लगाया है। इस दौरान बाल्मीकिनगर पुलिस प्रशासन भी विभिन्न स्थानों पर मुस्तेदी से ड्यूटी पर उपस्थित थे। मान्यता है कि कार्तिक पूर्णिमा के दिन गण्डक नदी में स्नान कर दान पुण्य करने से पापों का नाश होता है ततपश्चात सुख, शांति एवं मोक्ष की प्राप्ति भी मिलता है। कार्तिक पूर्णिमा के दिन हिन्दू धर्म के लोग सुबह में स्नान-ध्यान करने के साथ ही कार्तिक पूर्णिमा के दिन गंगा नदी में डुबकी लगाने की विशेष महत्त्व दिया गया है साथ ही कार्तिक माह में व्रत, दान-पुण्य, तप, पवित्र नदियों में स्नान एवं मंत्रोच्चार करने से मनुष्य को सांसारिक सुख की प्राप्त होते है और वह व्यक्ति मृत्यु के बाद भगवान विष्णु के परम् धाम बैकुंठ में स्थान मिलते है और इस कार्तिक पूर्णिमा को लेकर पश्चिम चंपारण जिले के विभिन्न नदियों में आस्था एवं विश्वास को नारायणी गण्डकी नदी के समीप लोगों ने डुबकी लगाते हुए देखा गया।

पश्चिम चंपारण-बिहार
*जिला संवाददाता-राजेश पाण्डेय

Share
Now