September 26, 2022

Express News Bharat

ज़िद !! सच दिखने की

ENB

हाई प्रोफाइल अंकिता हत्याकांड का खुलासा ! पूर्व राज्य मंत्री के बेटे सहित 03 गिरफ्तार सुनाई मौत की दास्तान……

ऋषिकेश के गंगा भोगपुर में वनंत्रा रिजॉर्ट में रिसेप्शनिस्ट का काम करने वाली युवती की हत्या का का मामला सामने आया है। पौड़ी गढ़वाल की नंदालस्यूं पट्टी के श्रीकोट गांव की अंकिता भंडारी पांच दिन से लापता थी। इस मामले में आज सुबह पुलिस ने कार्रवाई करते हुए पूर्व राज्य मंत्री विनोद आर्या के बेटे पुलकित आर्या समेत तीन लोगों को गिरफ्तार किया है।

गिरफ्तार किए गए तीनों आरोपियों से सख्ती से पूछताछ की तो आरोपियों ने अपना जुर्म कबूल कर लिया। अंकित उर्फ पुलकित गुप्ता (19) पुत्र राजेन्द्र कुमार, निवासी ज्वालापुर हरिद्वार, सौरभ भाष्कर (35, मैनेजर) पुत्र शक्ति भाष्कर, निवासी ज्वालापुर व पुलकित आर्य (35, रिजॉर्ट स्वामी) पुत्र विनोद आर्य, निवासी ज्वालापुर हरिद्वार पर हत्या के आरोप में पुलिस ने मुकदमा भी दर्ज कर लिया है।

आरोपियों ने नहर में दिया धक्का
आरोपियों ने बताया कि 18 सितंबर की शाम पुलकित व अंकिता रिजार्ट में थे तब उनमें किसी बात को लेकर विवाद हुआ। पुलकित ने कहा कि अंकिता गुस्से में है, इसे लेकर ऋषिकेश चलते हैं। जिस पर वे तीनों अलग-अलग गाड़ियों से ऋषिकेश चले गए। हम लोग बैराज होते हुए एम्स के पास पहुंचे। इस बीच रास्ते में तीनों ने शराब पी।

आरोपी ने बताया कि इसके बाद अंकिता व पुलकित के बीच फिर विवाद होने लगा। अंकिता हमें अपने साथियों के बीच बदनाम करती थी व हमारी बातें अपने साथियों को बताती थी। विवाद के दौरान हमें गुस्सा आ गया और अंकिता भी हमसे हाथापाई करने लगी। हमने गुस्से में उसे धक्का दे दिया और वह नहर में जा गिरी। इसके बाद वह एक दो बार चिल्लाई फिर नहर में डूब गई। पुलिस अधिकारियों का कहना है कि शव की तलाश की जा रही है।

लोगों ने किया हंगामा, रिजॉर्ट में तोड़फोड़
अंकिता की हत्या की खबर मिले ही स्थानीय लोगों ने हंगामा कर दिया। लोगों ने आरोपी को लेकर जा रही जीप को घेर लिया। कुछ लोगों ने जीप का शीशा भी तोड़ दिया। वहीं, रिजॉर्ट में तोड़फोड़ भी की। वहीं बेकाबू भीड़ ने एक आरोपी के साथ मारपीट भी कर दी। उधर, रिजॉर्ट को सील करने के लिए पहुंचे एसडीएम कोटद्वार को भी लोगों ने घेर लिया और लोग रिजॉर्ट का दरवाजा तोड़कर अंदर घुसने की कोशिश करने लगे। लोग रिजॉर्ट के ध्वस्तीकरण की मांग पर अड़े रहे। पुलिस और प्रशासन ने बड़ी मशक्कत के बाद हालात पर काबू पाया।
केवल शो के लिए लगे सीसीटीवी
पुलिस जब मामले की जांच के लिए पहुंची तो सामने आया कि रिजॉर्ट में केवल शो के सीसीटीवी कैमरे लगाए गए हैं। किसी भी कैमरे से रिकॉर्डिंग नहीं होती है।
अंकिता हत्याकांड ने भाजपा की हकीकत सामने ला दी- यशपाल आर्य
नेता प्रतिपक्ष यशपाल आर्य ने कहा कि तीर्थ नगरी में हुई अंकिता की हत्या ने न केवल राज्य की कानून व्यवस्था बल्कि भाजपा सरकार के ‘बेटी बचाओ- बेटी पढ़ाओ’ नारे की हकीकत भी सामने ला दी है। भाजपा सरकार में शांत पहाड़ों में भी अब बेटियां सुरक्षित नहीं हैं और बिगड़ती कानून व्यवस्था के लिए भाजपा नेता और उनके करीबी लोग जिम्मेदार हैं।

Share
Now