October 20, 2021

Express News Bharat

ज़िद !! सच दिखने की

चला गया 83 का सितारा: रणजी की एक पारी ने बदली थी यशपाल शर्मा की जिंदगी ..

भारतीय टीम के पूर्व खिलाड़ी और 1983 वर्ल्ड कप विजेता टीम के सदस्य यशपाल शर्मा का मंगलवार को दिल का दौरा पड़ने से निधन हो गया।

यशपाल शर्मा 1978 से 1985 तक भारतीय टीम के लिए खेले। उन्होंने 37 वनडे और 42 टेस्ट में भारत का प्रतिनिधित्व किया है।

अपने करियर में चार अर्धशतक भी लगाए। वह 1979-83 तक भारतीय मध्यक्रम का एक महत्वपूर्ण हिस्सा थे। उन्होंने कुछ वर्षों के लिए राष्ट्रीय चयनकर्ता के रूप में भी काम किया और 2008 में उन्हें फिर से पैनल में नियुक्त किया गया।

न्यूजीलैंड के खिलाफ शानदार हैट्रिक लगाने वाले चेतन शर्मा उनके भतीजे हैं। उनकी प्रतिभा को दिवंगत अदाकार दिलीप कुमार ने पहचाना और बीसीसीआई को उनके बारे में बताया।

यह बात खुद यशपाल शर्मा ने एक इंटरव्यू में बताई थी। दिलीप कुमार के बहुत बड़े फैन यशपाल शर्मा ने उनके भरोसे को कायम रखा और क्रिकेट की दुनिया में बुलंदी हासिल की। 

शर्मा ने 42 मैच की 40 पारियों में 883 रन बनाए, जिसमें उनका सर्वाधिक स्कोर 89 रन रहा।

Share
Now