September 26, 2022

Express News Bharat

ज़िद !! सच दिखने की

ENB

Ex IPS के घर अब तक निकले हीरे मोती सोने चांदी और जेवर के साथ-साथ 5 करोड़ 70 लाख रुपए कैश भी बरामद जानिए इस धनकुबेर…

पूर्व आईपीएस अधिकारी आरएन सिंह के सेक्टर 50 स्थित घर में बने एक लॉकर से बुधवार को आयकर विभाग को 2.78 करोड़ रुपये के गहने और सोने की ईंट मिली है। आयकर विभाग की टीम ने जांच के दौरान लॉकर से यह गहने बरामद किए हैं। इसमें हीरे, सोने, चांदी और मोती के गहने शामिल हैं। व्यवसायी द्वारा गहने और सोने की ईंट की खरीद की रसीद न दिखा पाने के कारण इसे जब्त कर लिया गया है। वहीं, चार लॉकर से बरामद 5.77 करोड़ रुपये को काला धन करार देते हुए आयकर विभाग ने सरकारी खाते में जमा करा दिए हैं।

आयकर विभाग की टीमों ने शनिवार शाम को पूर्व आईपीएस अधिकारी के घर के बेसमेंट में बने लॉकरों की जांच शुरू की गई थी। एक सूचना के आधार पर यह कार्रवाई की गई। पांच दिन चली यह जांच बुधवार शाम को पूरी हो गई। जानकारी के मुताबिक दिल्ली निवासी जिस व्यवसायी ने लॉकर किराए पर लिया था, वह गहने और सोने की ईंट को खुद का तो बता रहा था लेकिन इनकी खरीद रसीद नहीं दिखा सका। टीम ने उनसे पूछताछ की लेकिन वे 2.78 करोड़ रुपये के गहने और सोने की ईंट को खुद का साबित नहीं कर सके।

कुछ और गहने भी लॉकर में थे, जिसकी खरीद की रसीद दिखाने पर वह उन्हें दे दिए गए। टीम ने सुनार को बुलाकर उसकी कीमत की जांच की, जिसमें सोने की ईट की कीमत करीब 45 लाख रुपये और बाकी 2.33 करोड़ रुपये के गहने हैं। व्यवसायी द्वारा चाबी उपलब्ध कराए जाने के कारण लॉकर को कटवाना नहीं पड़ा। जांच में पता चला है कि व्यवसायी आयकर जमा करता है।
दूसरी तरफ चार लॉकरों को किराए पर लेकर उसमें 5.77 करोड़ रुपये रखने वाले लोगों की तलाश में गई आयकर विभाग की टीमें खाली हाथ लौट आई है। टीमों को वे लोग नहीं मिले हैं और न ही वे सामने आए हैं। आयकर विभाग के मुताबिक लॉकर को किराए पर लेने वाले लोगों द्वारा सामने न आने के कारण और जांच में सहयोग नहीं करने के कारण इसे कालाधन मानते हुए जब्त कर लिया गया है। गहने और सोने की ईंट को भी सरकारी संरक्षण में रखा जाएगा

छह लॉकरों को तोड़ा गया
पूर्व आईपीएस के घर के बेसमेंट में करीब 650 लॉकर हैं। सभी लॉकरों की जांच की गई। करीब 16 लॉकर संदिग्ध थे। इनमें से छह लॉकर को तोड़ा गया, जिनमें से चार में कुल 5.77 करोड़ रुपये और दो लॉकर खाली मिले थे। एक लॉकर व्यवसायी द्वारा पहुंचकर चाबी देने पर खोला गया है, जिसमें गहने और सोने की ईंट मिली है। तोड़े गए लॉकर के दस्तावेजों की जांच में यह सभी व्यवसायी और कंपनी में काम करने वाले कर्मचारियों के हैं।

लॉकरों के बारे में पूर्व आईपीएस के बेटे से की गई पूछताछ
जांच टीमों ने जिन लॉकर से नकदी और गहने बरामद किए हैं, उनके बारे में पूर्व आईपीएस के बेटे से पूछताछ की है। क्योंकि वहीं इस व्यवसाय को देखते है। उनसे पूछा गया है कि उन्हें इसकी जानकारी थी या नहीं। उन्होंने जानकारी से इंकार कर दिया। निजी लॉकर का व्यवसाय पूर्व आईपीएस की पत्नी के नाम पर है।

Share
Now