Wed. Jan 20th, 2021

Express News Live

ज़िद !! सच दिखने की

हरिद्वार में बड़ा रेल हादसा- ट्रेन की चपेट में आने से बुझे कई घरों के चिराग’4 की मौत….

  • हरिद्वार में बड़ा रेल हादसा हुआ है।
  • यहां ट्रैक के ट्रायल के दौरान ट्रेन की चपेट में आने से चार लोगों की मौत हो गई है।
  • हादसा लक्सर हरिद्वार रेल मार्ग पर जमालपुर रेलवे फाटक के करीब हुआ है।
  • मृतक युवक सीतापुर गांव के बताए जा रहे हैं और चारों करीबी दोस्त हैं!

ग्रामीणों से मिली जानकारी के अनुसार चारों में गहरी दोस्ती थी, चारों रोज शाम को घूमने के लिए घर से एक साथ निकलते थे। आज भी वह घूमने के लिए निकले थे, लेकिन यहां हादसे का शिकार हो गए।

हरिद्वार में बड़ा रेल हादसा हुआ है यहां ट्रैक के ट्रायल के दौरान ट्रेन की चपेट में आने से चार लोगों की मौत हो गई है।हादसा लक्सर हरिद्वार रेल मार्ग पर जमालपुर रेलवे फाटक के करीब हुआ है.हादसे में मरने वाले चारों युवकों की शिनाख्त हो गई है।

पुलिस के अनुसार सभी सीतापुर गांव के रहने वाले थे। इस घटना से गांव में कोहराम मचा है। मृतक युवकों के घरों में जहां कोहराम मचा है वहीं गांव में मातम पसर गया है।बताया जा रहा है कि चारों दोस्त हैं और रोज शाम को घूमने के लिए जाते थे।

इन दिनों लक्सर हरिद्वार रेल मार्ग पर डबल ट्रैक बिछाने का काम चल रहा है। इसके चलते यहां ब्लाक लिया गया है। इसके चलते कई ट्रेनों को परिचालन स्थगित किया गया है। गुरुवार को इस ट्रैक पर ट्रेन का ट्रायल हो रहा था। इस दौरान ट्रायल ट्रेन को विशेष रूप से दिल्ली से बुलाया गया था।

इस ट्रेन को नए बनाए गए ट्रैक पर 120 किलोमीटर की रफ्तार से दौड़ाया गया। स्थानीय लोगों के अनुसार जमालपुर फाटक के पास ही चार लोग इस ट्रायल ट्रेन की चपेट में आ गए। ट्रेन की रफ्तार इतनी तेज थी कि चारों लोगों के शव क्षत विक्षत हो गए।

पुलिस के अनुसार मृतकों की पहचान विशाल, मयूर प्रवीण और गोलू के रूप में हुई है. विशाल, मयूर और प्रवीण एक परिवार के सदस्य हैं. जबकि गोलू उनका मित्र हैं. बतया जा रहा है कि विशाल हरिद्वार नगर निगम में कर्मचारी है। मयूर MBA कर चुका था। जबकि प्रवीण स्नातक कर चुका था। गोलू अभी स्नातक में पढ़ाई कर रहा था।  पुलिस ने सभी के शव कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिये हैं।एसएसपी जीआरपी मंजूनाथ टीसी आरपीएफ और जीआरपी पुलिस बल के साथ रेलवे ट्रैक पर कांबिंग कर रहे हैं.

ग्रामीणों से मिली जानकारी के अनुसार चारों में गहरी दोस्ती थी, चारों रोज शाम को घूमने के लिए घर से एक साथ निकलते थे। आज भी वह घूमने के लिए निकले थे, लेकिन यहां हादसे का शिकार हो गए।

हादसे के बाद रेलवे के अधिकारी और पुलिस मौके पर पहुंची। स्थानीय विधायक यतीश्वरानंद भी मौके पर पहुंचे और पूरी घटना की जानकारी ली। रेलवे के अधिकारी इस मसले पर कुछ भी बोलने से बच रहें हैं। हालांकि डीआरएम ने इस पूरे मामले की जांच के आदेश दिए हैं। वहीं बताया जा रहा है कि जिस वक्त हादसा हुआ उस वक्त कमीश्नर ऑफ रेलवे सेफ्टी की अगुवाई में एक्सपर्ट्स की एक टीम हरिद्वार में मौजूद थी।

Share
Now