Sat. Mar 6th, 2021

Express News Live

ज़िद !! सच दिखने की

आखिर इस आरोपी ने स्वीकार की लाल किले पर झंडा फहराने की बात- और भी जाने क्या कहा….

 दीप सिद्धू ने फेसबुक पर एक वीडियो जारी कर कहा कि लाल किला पर निशान साहिब का झंडा तो उन्होंने ही फहराया है, लेकिन राष्ट्र ध्वज नहीं हटाया। साथ ही अपने ऊपर लगे आरोपों को दरकिनार कर दिया। उन्होंने कहा कि कुछ संगठनों के नेताओं ने तय रूट फॉलो नहीं करने की बात पहले ही कही थी, लेकिन  भारतीय किसान यूनियन ने इसे नजरंदाज कर दिया। उन्होंने कहा कि  केवल एक प्रतीकात्मक विरोध के तौर पर ‘निशान साहिब’ को लगाया था। बता दें कि निशान साहिब’ सिख धर्म का प्रतीक है और इस झंडे को सभी गुरुद्वारा परिसरों में लगाया जाता है। 

बता दें कि किसानों की ट्रैक्टर रैली के दौरान दिल्ली  के कई हिस्सों में हिंसक झड़पें भी हुईं। ट्रैक्टर, मोटरसाइकिल और कार पर सवार सैकड़ों किसान हाथों में तिरंगा और अन्य  झंडे लेकर लाल किला परिसर में घुस गए।  सुरक्षा बलों और पुलिस कर्मियों की संख्या से अधिक संख्या में किसान जल्द ही स्मारक की प्राचीर पर चढ़ गए और वहां अपना परचम लहराया।  राजधानी के विभिन्न हिस्सों में मंगलवार को भड़की हिंसक झड़पों में दर्जनों पुलिसकर्मी और कई किसान घायल हो गए। आईटीओ चौराहे के पास ट्रैक्टर  पलटने के चलते एक किसान की मौत हो गई। 

आइए बताते हैं कि कौन हैं  दीप सिद्धू, जिनको लेकर बॉलीवुड अभिनेता सनी देओल को देनी पड़ी सफाई और एनआईए ने समन भेज तलब किया… 

 भारतीय किसान यूनियन के हरियाणा प्रदेश अध्यक्ष गुरनाम सिंह ने दीप सिद्धू पर आरोप लगाते हुए कहा कि किसान संगठनों का लाल किले पर जाने का कोई कार्यक्रम नहीं था। दीप सिद्धू ने किसानों को भड़काया और आउटर रिंग रोड से लाल किले ले गया। किसान शांतिपूर्ण आंदोलन करते रहेंगे। ये आंदोलन धार्मिक आंदोलन नहीं है। वहीं कार्यकर्ता योगेंद्र यादव ने कहा कि दीप सिद्धू और गैंगेस्टर से नेता बने लखा सिधाना ने पिछली रात सिंघु बॉर्डर पर भी किसानों को भड़काने की कोशिश की। योगेंद्र यादव ने आगे कहा,  इस बात की जांच होनी चाहिए कि किस प्रकार एक माइक्रोफोन के साथ दीप सिद्धू लाल किले तक पहुंच गया। 

कौन हैं दीप सिद्धू 
दीप सिद्धू पंजाबी अभिनेता हैं। दीप सिद्धू का जन्म वर्ष 1984 में पंजाब के मुक्तसर जिले में हुआ, फिर उन्होंने आगे लॉ की पढ़ाई की।। दीप किंगफिशर मॉडल हंट के विजेता रह चुके हैं और मिस्टर इंडिया कॉन्टेस्ट में मिस्टर पर्सनैलिटी का खिताब जीत चुके हैं। शुरूआत में मॉडलिंग की, लेकिन कामयाबी नहीं मिली। किंगफिशर मॉडल हंट अवार्ड जीतने से पहले वह कुछ दिन बार के सदस्य भी रहे।  साल 2015 में दीप सिद्धू की पहली पंजाबी फिल्म ‘रमता जोगी’ रिलीज हुई।  हालांकि, उन्हें पहचान साल 2018 में आई फिल्म ‘जोरा दास नुम्बरिया’  से मिली, जिसमें उन्होंने गैंगेस्टर का किरदार निभाया है।  

Share
Now