May 29, 2023

Express News Bharat

Express News Bharat 24×7 National Hindi News Channel.

बिहार बाढ़: महिला ने एनडीआरएफ की रेस्क्यू बोट पर बच्ची को दिया जन्म

मोतिहारी
बिहार के बाढ़ग्रसित मोतिहारी जिले में एक महिला ने एनडीआरएफ की रेस्क्यू बोट पर एक बच्ची को जन्म दिया। मां और बच्ची दोनों की हालत स्थिर बताई जा रही है। 41 साल की महिला ने 20 जुलाई को बच्ची को जन्म दिया था। मोतिहारी के गोबरी गांव निवासी सबीना खातून को लेबर पेन हुआ, जिसके बाद उसके परिवार वाले उसे नजदीक के हेल्थ सेंटर ले जाने को तैयार हुए।
उसी समय असिस्टेंट सब इंस्पेक्टर विजय झा के नेतृत्व में एनडीआरएफ की एक सब टीम बजरिया के बाढ़ प्रभावित इलाकों में राहत व बचाव कार्य कर रही थी। गर्भवती महिला के लेबर पेन की सूचना मिलते ही एनडीआरएफ की टीम तुरंत उस जगह पर पहुंची। महिला के रिश्तेदारों और आशा वर्करों की मदद से एनडीआरएफ की टीम ने सबीना को मोटरबोट से हेल्थ सेंटर तक ले जाने की व्यवस्था की। एनडीआरएफ के नर्सिंग असिस्टेंट राणा प्रताप यादव भी नाव में मौजूद थे।

NBT

पटना में गांधी घाट पर बाढ़ का कहर

आशा वर्कर और रिश्तेदारों की मदद से नाव में डिलिवरी
अस्पताल ले जाते वक्त रास्ते में ही सबीना का दर्द काफी तेज हो गया और उनकी हालत भी बिगड़ने लगी। इमर्जेंसी की स्थिति को ध्यान में रखते हुए एनडीआरएफ ने नाव में ही प्रसव कराने का तय किया। सभी संभव कोशिशों के साथ एनडीआरएफ के नर्सिंग असिस्टेंट, आशा वर्कर और महिला के रिश्तेदारों की मदद से बच्ची को जन्म दिया गया। बाद में महिला और बच्ची को बजरिया इलाके के हेल्थ सेंटर में भर्ती कराया गया।

बाढ़ से अब तक राज्य में 102 लोगों की मौत
बता दें कि बिहार के 12 जिलों में आई बाढ़ से अबतक 102 लोगों की मौत हो चुकी है जबकि करीब 72 लाख लोग प्रभावित हुए हैं। आपदा प्रबंधन विभाग से प्राप्त जानकारी के मुताबिक बिहार के 12 जिले शिवहर, सीतामढ़ी, मुजफ्फरपुर, पूर्वी चंपारण, मधुबनी, दरभंगा, सहरसा, सुपौल, किशनगंज, अररिया, पूर्णिया और कटिहार में अबतक 78 लोगों की मौत के साथ कुल 102 लोगों की मौत हुई है जबकि लगभग 72 लाख लोग प्रभावित हुए हैं।

NBT

बिहार में बाढ़ ने मचाई बड़ी तबाही

बिहार में बाढ़ से मरने वाले 102 लोगों में सीतामढ़ी में 27, मधुबनी में 23, अररिया में 12, शिवहर और दरभंगा में 10-10, पूर्णिया में 9, किशनगंज में 5, सुपौल में 3, पूर्वी चंपारण में 2 और सहरसा के एक व्यक्ति शामिल हैं। बाढ़ प्रभावित इन 12 जिलों में कुल 133 राहत शिविर चलाए जा रहे हैं, जहां 114921 लोग शरण लिए हुए हैं।

Share
Now