January 28, 2023

Express News Bharat

Express News Bharat 24×7 National Hindi News Channel.

Express News Bharat

Rajasthan/ आतंकियों द्वारा दो ट्रक ड्राइवर की हत्या के बाद परिजनों का शव लेने से इनकार, आर्थिक मदद और सरकारी नौकरी की मांग;

  • इलियास 16 अक्टूबर की रात जयपुर से सेना के लिए दूध लेकर गया था,
  • इलियास के परिवार में उसकी पत्नी मुबीना के अलावा 4 बच्चे हैं
  • मोत के बाद इलियास के घर में अब कोई कमाने वाला नहीं रहा,

अलवर. गुरुवार को कश्मीर के शोपियां में दो ट्रक ड्राइवरों की हत्या के बाद शनिवार को अलवर के इलियास खान और भरतपुर के जाहिदका शव उनके पैतृक गांव पहुंचा।

जहां ट्रपरिजनों ने शव लेने से इंकार कर दिया। इलियास परिजनों की मांग है कि उन्हे 15 लाख रुपए और सरकारी नौकरी दी जाए। उन्होंने पीएम मोदी से मदद की मांग की।

साथ ही कश्मीर में शांति के दावों को गलत बताया। वहीं जाहिद के परिवार ने सरकारी नौकरी के साथ 50 लाख रुपए की मांग की है। साथ ही 10 बीघा जमीन भी मांगी गई है।

दोनों मृतक के परिजनों ने मांग पूरी होने तक शव लेने से इनकार कर दिया है। देर रात समझाई करने पर भी जब परिजन नहीं माने तो जिला प्रशासन ने शव को मोर्चरी में रखवा दिया। इससे पहले रामगढ़ विधायक साफिया खान ने शुक्रवार को गांव खोहा बास पहुचंकर इलियास के परिजनों को ढांढस बंधाया और मुख्यमंत्री सहायता कोष से आर्थिक मदद एवं आवास योजना के तहत पक्के मकान व विधवा पेंशन शुरू करवाने का आश्वासन दिया।

किशनगढ़बास एसडीएम सुरेन्द्र प्रसाद, थानाधिकारी अजीत सिंह व तहसीलदार हेमेंद्र गोयल भी गांव पहुंचकर पीड़ित परिवार से मिले।

इलियास तो ट्रक का मालिक भी नहीं था
मृतक इलियास खान (45)के 4 भाई हैं। बड़े भाई भुट्टो खां ने बताया कि इलियास 16 अक्टूबर की रात जयपुर से सेना के लिए दूध लेकर गया था। भतीजे मोहम्मद तालिब ने बताया कि 17 अक्टूबर को उसके फूफा जयपुर में थे और रास्ता पूछ रहे थे कि गांधी नगर कैसे जाना है,

क्योंकि नो-एंट्री हो चुकी थी। इसके बाद उनसे कोई संपर्क नहीं हुआ। इलियास जिस ट्रक को चलता है, वह ट्रक नाैगांवा के ओदाका गांव निवासी जावेद के नाम पर रजिस्टर्ड है।

इलियास के घर में अब कोई कमाने वाला नहीं
इलियास के घर में अब कमाने वाला कोई नहीं है। उसके परिवार की अार्थिक स्थिति खराब है। मकान भी कच्चा-पक्का सा बना हुअा है।

इलियास के परिवार में उसकी पत्नी मुबीना के अलावा 4 बच्चे हैं। इनमें एक बेटा साकिर (14) आठवीं में पढ़ता है। बेटी इमराना (17) 12वीं और अंजुम (12) आठवीं क्लास में मदरसा में पढ़ती है। बड़ी बेटी अरस्तूना की शादी हो चुकी।

सीएम सहायता कोष से दो लाख की आर्थिक मदद
जम्मू-कश्मीर में आतंकियों द्वारा मारे गए अलवर के खोह बास निवासी ड्राइवर इलियास खां को मुख्यमंत्री सहायता कोष से 2 लाख रुपए की सहायता राशि जारी की गई है।

यह राशि सीएम सहायता कोष नियमों में शिथिलता प्रदान करते हुए जारी की गई है। एडीएम प्रथम रामचरण शर्मा ने बताया कि इसके अलावा जम्मू-कश्मीर सरकार का प्रावधान 4.50 लाख रुपए का है। फिलहाल यह सहायता पीड़त परिवार को जारी की गई है।

Share
Now