February 7, 2023

Express News Bharat

Express News Bharat 24×7 National Hindi News Channel.

Express News Bharat

गृहमंत्री अमित शाह का ऐलान- पूरे देश में लागू की जाएगी NRC!

नई दिल्ली: गृहमंत्री अमित शाह ने राज्यसभा में विपक्ष के आरोपों का जवाब दिया। उन्होंने ऐलान किया कि एनआरसी के आधार पर नागरिकता की पहचान सुनिश्चित की जाएगी और इसे पूरे देश में लागू किया जाएगा। शाह ने धर्म के आधार पर एनआरसी में भेदभाव किए जाने की आशंका को भी खारिज करते हुए कहा कि किसी भी धर्म विशेष के लोगों को इसके कारण डरने की जरूरत नहीं है। यह एक प्रक्रिया है जिससे देश के सभी नागरिक एनआरसी लिस्ट में शामिल हो सकें। 

PunjabKesari

वहीं इससे पहले गृहमंत्री ने राज्यसभा में जम्मू कश्मीर के मुद्दे पर बात करते हुए कहा कि वहां स्थिति सामान्य हो चुकी है। 370 हटने के बाद वहां एक भी गोली नहीं चली। उन्होंने कहा कि देश-दुनिया में कई तरह की भ्रांतियां इस बारे में फैली हुई है। राज्य में 5 अगस्त के बाद पुलिस फायरिंग की वजह एक भी व्यक्ति की जान नहीं गई है। गृहमंत्री ने कहा कि राज्य में टेलिफोन सेवाएं और मोबाइल सेवा चालू है। जरूरी कार्यों के लिए इंटरनेट केंद्र भी खोले गए हैं। बैंकिंग सेवा पूरी तरह से चालू है। मीडिया स्वतंत्र रूप से काम कर रही है। सभी सरकारी ऑफिस खुले हैं। पत्थरबाजी की घटनाओं में पिछले साल के मुकाबले कमी आई है। सभी स्कूल खुले है। परीक्षा अच्छे तरीके से ली जा रही है। सभी अस्पताल और स्वास्थ्य केंद्र खुले हैं। 

PunjabKesari

संसद के शीतकालीन सत्र के तीसरा दिन की शुरूआत भी हंगामेदार रही। कांग्रेस समेत विपक्ष की कई पार्टियों ने राज्यसभा में दौरान काफी हंगामा किया। वहीं इसी बीच सरकार की ओर से केंद्रीय गृह राज्य मंत्री नित्यानंद राय ने महाराष्ट्र में राष्ट्रपति शासन के लिए राज्यपाल की रिपोर्ट सदन में पेश की। सदन की बैठक शुरू होने पर सभापति एम वेंकैया नायडू ने आवश्यक दस्तावेज पटल पर रखवाए। कांग्रेस सांसद आनंद शर्मा ने राज्यसभा में गांधी परिवार से एसपीजी सुरक्षा हटाए जाने का मुद्दा उठाते हुए कहा कि हम सरकार से आग्रह करते हैं कि हमारे नेताओं की सुरक्षा के मुद्दों को पक्षपातपूर्ण राजनीतिक विचारों से परे होना चाहिए।

PunjabKesari

इसके जवाब में बीजेपी नेता जेपी नड्डा ने कहा कि कुछ भी राजनीतिक नहीं है। सुरक्षा वापस नहीं ली गई है। गृह मंत्रालय का एक बहुत ही निर्धारित पैटर्न है और एक प्रोटोकॉल है। यह एक राजनेता द्वारा नहीं किया जाता है, यह गृह मंत्रालय द्वारा किया जाता है और खतरे की धारणा के अनुसार सुरक्षा दी जाती है और वापस ले ली जाती है। वहीं कांग्रेस सांसद जयराम रमेश ने राज्यसभा में प्रदूषण का भी मुद्दा उठाया।

Share
Now