February 7, 2023

Express News Bharat

Express News Bharat 24×7 National Hindi News Channel.

Express News Bharat

‘मिनी पाकिस्तान’ ट्वीट पर BJP कैंडिडेट कपिल मिश्रा को कारण बताओ नोटिस जारी, जानें क्या कहा था…

दिल्ली विधानसभा चुनाव में भारतीय जनता पार्टी के उम्मीदवार कपिल मिश्रा को ‘मिनी पाकिस्तान’ वाले उनके विवादास्पद ट्वीट लेकर रिटर्निंग अधिकारी ने कारण बताओ नोटिस जारी कर दिया है। कपिल मिश्रा को यह नोटिस ऐसे वक्त में मिला है, जब उनके ट्वीट को लेकर चुनाव आयोग ने दिल्ली के मुख्य चुनाव अधिकारी से रिपोर्ट मांगी है। बता दें कि कपिल मिश्रा ने दिल्ली चुनाव को लेकर दो ट्वीट किया था, जिनमें से एक में ‘मिनी पाकिस्तान’ वाला था और दूसरे में उन्होंने कहा था कि 8 फरवरी को भारत-पाकिस्तान का मैच होगा। 

नोटिस में गुरुवार को कपिल मिश्रा से उनके द्वारा किए गए ट्वीट्स को लेकर जवाब मांगा गया है। नोटिस में कहा गया है कि कपिल मिश्रा के कृत्य से आदर्श आचार संहिता के प्रावधानों का उल्लंघन होता है और इस कानून के अंतर्गत यह दंडनीय अपराध है। उनसे पूछा गया है कि कारण बताएं कि आपके खिलाफ क्यों न कार्रवाई शुरू की जाए?

हालांकि, आज सुबह कपिल मिश्रा ने एक और ट्वीट किया और लिखा-सच बोलने में डर कैसा, सत्य पर अडिग हूं।

दरअसल, संशोधित नागरिकता कानून के खिलाफ राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली के शाहीन बाग में जारी प्रदर्शन स्थल को विधानसभा चुनाव में भाजपा उम्मीदवार कपिल मिश्रा ने ‘मिनी पाकिस्तान’ करार दिया था। इससे पहले आम आदमी पार्टी छोड़ कर भाजपा में शामिल होने वाले मिश्रा ने कहा कि आठ फरवरी को होने वाले विधानसभा चुनाव में दिल्ली की सड़कों पर हिंदुस्तान और पाकिस्तान का मुकाबला होगा।

कपिल मिश्रा ने गुरुवार को दो ट्वीट किया, एक ट्वीट में उन्होंने कहा, ‘आठ फरवरी को दिल्ली में भारत बनाम पाकिस्तान होगा। 8 फरवरी को दिल्ली की सड़कों पर हिंदुस्तान और पाकिस्तान का मुकाबला होगा।’ एक अन्य ट्वीट में कपिल ने कहा, ‘पाकिस्तान की एंट्री शाहीन बाग में हो चुकी हैं और दिल्ली में छोटे छोटे पाकिस्तान बनाये जा रहे हैं। शाहीन बाग, चांद बाग, इंद्रलोक में देश का कानून नहीं माना जा रहा है और पाकिस्तानी दंगाइयों का दिल्ली की सड़कों पर कब्जा है।’

बता दें कि अरविंद केजरीवाल सरकार में मंत्री रह चुके कपिल मिश्र दिल्ली के मॉडल टाउन से भाजपा उम्मीदवार हैं। आम आदमी पार्टी के पूर्व नेता को केजरीवाल ने 2017 में मंत्री पद से हटा दिया था। दिल्ली में 8 फरवरी को विधानसभा चुनाव के लिए वोट डाले जाएंगे और नतीजे 11 फरवरी को आएंगे। दिल्ली में विधानसभा की 70 सीटें हैं जिसमें से 58 सामान्य श्रेणी की है जबकि 12 सीटें अनुसूचित जाति के लिए आरक्षित हैं।

Share
Now