January 27, 2023

Express News Bharat

Express News Bharat 24×7 National Hindi News Channel.

Express News Bharat

उत्तराखंड: पुलिस को कबाड़ी पास मिली तीन लाख की स्पोर्ट्स बाइक

उत्तराखंड में कबाड़ी से पुलिस ने दिल्ली से चोरी तीन लाख रुपये कीमत की स्पोर्ट्स बाइक बरामद की है। आरोपी बाइक पर फर्जी नम्बर प्लेट लगाकर उसे रुड़की में दौड़ा रहा था। पुलिस ने बाइक को सीज कर आरोपी को गिरफ्तार किया है। 

सिविल लाइंस कोतवाली पुलिस बोट क्लब पर चेकिंग कर रही थी। चेकिंग के दौरान रोड से तेजी गति से स्पोर्ट्स  बाइक सवार गुजरी। पुलिस ने बाइक सवार को रुकने का इशारा किया तो उसने रफ्तार बढ़ा दी। शक होने पर पुलिस ने आसपास के क्षेत्रों की घेराबंदी कर दी। खुद को पुलिस से घिरता देख बाइक सवार हड़बड़ाहट में गिर पड़ा। जिसके बाद पुलिस ने कांवड़ी पटरी से बाइक सवार को पकड़ लिया। कोतवाली लाकर पूछताछ करने पर बाइक सवार ने पुलिस को गुमराह करने का प्रयास किया। सख्ती से पूछताछ पर बाइक सवार ने बताया कि स्पोर्ट्स बाइक चोरी की है। सालियर निवासी मामा के दोस्त ने बाइक को अप्रैल 2019 में दिल्ली से चोरी की थी। इंस्पेक्टर अमरजीत सिंह ने बताया कि बाइक सवार माहिग्रान बंदा रोड निवासी अलीम और उसके सालियर निवासी मामा के लड़के समीउल्लाह उर्फ राजा और पुरकाजी निवासी अफजल पर मुकदमा दर्ज किया है। बताया कि आरोपी कबाड़ी का काम करता है। आरोपी को पकड़ने वाली टीम में एसएसआई प्रदीप कुमार, उपनिरीक्षक अंकुश शर्मा, रामवीर, हासिम अब्बास और राजे सिंह शामिल रहे।

तीन लाख की बाइक तीस हजार में खरीदी
पुलिस पूछताछ में अलीम ने बताया की उसे स्पोर्ट्स बाइक का शौक है। लेकिन स्पोर्ट्स बाइक की कीमत लाखों में होने के कारण वह उसे खरीदने में असमर्थ था। शौक पूरा करने के लिए अपने मामा के लड़के सालियर निवासी समीउल्लाह उर्फ राजा से संपर्क किया। राजा ने बताया था कि पुरकाजी निवासी दोस्त अफजल ने दिल्ली से स्पोर्ट्स बाइक चोरी की थी। वह अफजल से उसे बेहद कम दाम पर दिला सकता है। अलीम ने बताया कि मोहम्मदपुर झाल के पास तीनों की मुलाकात हुई। अफजल बाइक लेकर झाल के पास पहुंचा था। तीस हजार रुपये में बाइक खरीदी थी।

दलाल ने दिलाई फर्जी नम्बर प्लेट
अलीम ने पुलिस को बताया कि सालियर निवासी मामा का लड़का समीउल्लाह उर्फ राजा दलाल है। समीउल्लाह उर्फ राजा ने फर्जी नम्बर प्लेट एआरटीओ कार्यालय से उपलब्ध कराई थी। राजा ने बताया था कि स्पोर्ट्स बाइक की चेकिंग कोई नहीं करता है। लेकिन पुलिस जांच में फर्जीवाड़ा खुल गया। इंजन नम्बर और बाइक नम्बर का मिलान नहीं हो पाया।

Share
Now